सरकार confused नहीं है इसलिए आप भी भ्रमित न हों

चूतियों की एक विशेषता होती है ।
खुद चूतिया होते हैं इसलिए दूसरों को भी चूतिया ही समझते हैं ।
वो कहते है न …… जाकी रही भावना जैसी , प्रभु मूरत देखी तिन तैसी ……
इसलिए चूतियों को सारी दुनिया चूतिया ही दिखती है ।
कल फिर कुछ चूतिये शीघ्रपतन का शिकार हो गए ।
सरकार ने घोषणा की कि 500 और हज़ार के पुराने नोट यदि आपके पास हैं तो सारे इकट्ठे एक साथ जमा कर दीजिये । मने लाख दो लाख या करोड़ दो करोड़ , या 100 पचास करोड़ जो है अपने खाते में इकट्ठे जमा कर दीजिये । उसके बाद एक बार में 5000 से ज़्यादा की रकम नहीं ली जायेगी ।
लोग बाग़ दरअसल पुराने नोटों की 50,000 के नीचे की रकम जिसे जमा कराने पे Pan number नहीं देना पड़ता , ले के रोजाना बैंक में line लगा रहे थे ……. ये वो व्यापारी थे जो या तो अब भी पुराने नोटों में बिक्री कर रहे थे या फिर काले धन वालों के पैसे अपने ac में जमा करा के नोट बदल रहे थे ……. इन लोगों के इस गोरखधंदे को रोकने के लिए सरकार ने ये कदम उठाया ।
इसके अलावा चूतिये ये सवाल भी उठा रहे है कि सरकार रोजाना policy बदल क्यों रही है । सरकार दिग्भ्रमित confused है क्या ?
इसका जवाब अमित शाह ने दिया है …… ये एक युद्ध है ….. काले धन के खिलाफ युद्ध ….. सरकार ने काले धन के खिलाफ युद्ध की घोषणा की है ……. अब जब युद्ध होगा तो सामने वाला पक्ष भी तो लडेगा ? आपने उसकी जीवन भर की काली कमाई पे हाथ डाला है । वो क्या बस यूँ ही surrender कर देगा ? भागने की , बच निकलने की पूरी कोशिश करेगा ….. अपनी काली कमाई को सफ़ेद करने की पूरी कोशिश करेगा । सरकार द्वारा आम आदमी को दी गयी सुविधा का दुरुपयोग करेगा । system में loopholes खोजेगा …… बच निकलने के रास्ते खोजेगा ……. अब सरकार का काम है उन loopholes को बंद करे …… चोरों के बच निकलने के रास्ते बंद करे …… ये तो चोर सिपाही का खेल है जी ….. तू डाल डाल मैं पात पात . जस जस चोर नए रास्ते खोजते हैं सरकार नए नियम बना के वो रास्ता बंद कर देती है ।
सरकार दिग्भ्रमित confused नहीं बल्कि बेहद सतर्क है ।
सरकार पूरे जी जान से काले धन के खिलाफ युद्ध लड़ रही है ।
सरकार confused नहीं है इसलिए आप भी भ्रमित न हों

Comments

comments

मिथिलेश नन्दिनी शरण

युक्तियुक्त समाधान !
आप सदा से तर्कपूर्वक लिखते हैं। धन का रोग वास्तव में मन का रोग बन चुका था.. तो जो मनोरोगी हैं उनके स्वस्थ होने में समय लगेगा..’डायलिसिस’है ही कठिन चिकित्सा.. पर आप भ्रान्तियों का निवारण कर रहे हैं इस मंच से..साधुवाद और बधाई..!

Your email address will not be published. Required fields are marked *