क्या है Alom Bagora से सीखने लायक ?

Fb पे मैंने बांग्लादेशी कलाकार Alom Bagora पे पोस्ट लिखी तो उस से पहले Fb Alom का और उसके रंग रूप शक्लो सूरत हाव भाव का मज़ाक उडाती पोस्ट्स से भरा हुआ था ।

पर जब मेरी पोस्ट आई , एक अलग perspective से तो अचानक Fb पे माहौल बदल गया ।

मित्रों ने मज़ाक उड़ाने वाली पोस्ट्स धड़ा धड उतारनी शुरू कर दीं । आम तौर पे मेरी पोस्ट्स पे अधिकाधिक 1000 likes आते हैं पर उस पोस्ट पे 2500 से ज़्यादा likes और 375 shares हुए । मने उस पोस्ट ने लोगों को अन्दर तक छुआ ।

कुछ मित्रों ने बहस को आगे बढाया । कहने लगे कि हम उसके शक्लो सूरत और रंग रूप नहीं बल्कि उसकी खराब acting और उसकी विडियो फिल्मों की लचर प्रस्तुति की आलोचना कर रहे थे ।

सत्य इसके विपरीत है । सत्य यह है कि आलोचना उसके रंग रूप और शक्लो सूरत की हो रही थी । उसकी लिहाड़ी ली जा रही थी । उसकी खूबसूरत पत्नी के साथ उसकी फोटो डाल के लंगूर के मुह में अंगूर बताया जा रहा था । सवाल उठता है कि ऐसा क्या ख़ास है जिसके लिए अलोम बगोरा की प्रशंसा होनी चाहिए ?

ये सच है कि Alom प्रचलित मान्यता में कुरूप है । आप उसे कुरूप मानते हैं ।

कुरूप है इसलिए उसे Showbiz में आने का हक नहीं । आप सिर्फ खूबसूरत चेहरे देखना चाहते हैं । पर इस से Alom को कोई फर्क नहीं पड़ा । आप Alom के बारे में क्या सोचते है इस से कोई फर्क नहीं पड़ता । फर्क इस बात से पड़ता है कि Alom अपने खुद के बारे में क्या सोचता है ।

आपने उसे कुरूप बदसूरत माना ……. पर उसने खुद को कुरूप मानने से इनकार कर दिया । खुद की निगाह में वो बेहद स्मार्ट है और एक दिन फिल्म स्टार बनेगा ……. इसे कहते हैं Self Esteem …… Amol ने अपनी कमियों को नज़रंदाज़ कर अपनी खूबियों को पहचाना …… अपनी life के लिय3 Goal set किये ……. बड़े ऊंचे थे उसके goals ……. और फिर जी जान से जुट गया उन्हें Achieve करने में । न दिन देखा न रात ……..सिर्फ लक्ष्य पे निगाह । काक चेष्टा बको ध्यानम् …….

फर्क इस बात से नहीं पड़ता कि आप आज कहाँ खड़े हैं ……… फर्क इस बात से पड़ता है कि आपको जाना कहाँ है ……. और Amol को पता था कि उसे जाना कहाँ है ……. ये नहीं पता था कि कैसे जाना है …… कैसे जाना है ये इतना महत्वपूर्ण भी नहीं होता ……. how ? ये महत्वपूर्ण नहीं होता ….. why …… कहाँ जाना है और क्यों जाना है ये ज़्यादा महत्वपूर्ण है ……. अगर आपकी why मज़बूत है तो how खोजना तो बहुत आसान है । अगर Why कमज़ोर हुई तो How कभी नहीं मिलेगा ।

Amol की Why बेहद मज़बूत थी ……. इसलिए उसकी लक्ष्य प्राप्ति में बदसूरती आड़े नहीं आई ……. शिक्षा का अभाव आड़े नहीं आया ……. training का अभाव भी आड़े नहीं आया …… गरीबी आड़े नहीं आई …… संसाधनों का अभाव भी आड़े नहीं आया ……. अगर Dreams बड़े हों …… Why क्लियर हो ……. तो कुछ भी आड़े नहीं आता ……..

उत्तिष्ठत जाग्रत प्राप्य वरान्निबोधत ……. जागो उठो और लक्ष्य प्राप्ति तक आगे बढ़ते रहो …….

If Amol can succede why can’t you ……. शुक्र मनाइये कि आप Amol से तो ज़्यादा ही खूबसूरत हैं …… उठिए …… stardom आपका इंतज़ार कर रही है ।

Amol ने आपको रास्ता दिखा के आपका काम आसान नहीं कर दिया ?

Comments

comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *